-->
कोरोना वायरस का खौफ- सरकारी कर्मचारीयों को नही लगाना पडेंगा बायोमेट्रीक हजरी, पढीए पुरा मामला

कोरोना वायरस का खौफ- सरकारी कर्मचारीयों को नही लगाना पडेंगा बायोमेट्रीक हजरी, पढीए पुरा मामला

कोरोना वायरस की वजह से केंद्र सरकार ने यह कदम उठाया है 


भारत देश मे ही नही बल्की पुरी दुनिया मे कोरोना वायरस कि वजह से अफरा-तफरी पैâली हुई है । दुनिया के कई देश इसकी चपेट मे आगए है. दुसरे देशों कि सरकार कि तरह भारत सरकार भी कोरोना वायरस से बचने और उससे सुरक्षित रखने के लिए हर वह काम को अंजाम दे रही जो कोरोना वायरस से बचने के लिए काम आए.भारत सरकार यानी केंद्र  सरकार ने खबरदारी के तहत और कोरोना वायरस के बढते मामलो को देख कर एक निर्णय लिया है. जो सरकारी कर्मचारीयो को लेकर है. वेंâद्र सरकार ने अब सरकारी कर्मचारींयो को बायोमेट्रीक हजरी लगाने पर रोक लगाई है. सरकारी दफ्तर मे कर्मचारी बायोमेट्रीक मशीन का इस्तेमाल करते थे. और अपनी अटेंडन्स यानी हजरी लगाते थे. अब यह बायोमेट्रीक हजरी वाला सिस्टम केंद्र सरकारने ३१ मार्च २०२० तक बंद कर दिया है सरकारी कार्यालयो मे अब बायोमेट्रीक कि जगह रजिस्टर मे अपनी हजरी अटेंडन्स दर्ज करने को कहा है । संक्रमित चिजों के संपर्क  मे आने से यह वायरस पैâलने कि संभावना है इस लिए सरकार ने यह कदम उठाया है 


कोरोना वायरस का कहर कहा तक पहोचा

अगर रिपोर्टस कि माने तो शुक्रवार यानी ०६  मार्च २०२० तक पुरी दुनिया मे ७९ देशों मे लगभग ९५,३००से अधिक लोग कोरोना वायरस के संक्रमीत हुए है. इस वायरस कि वजह से मरने वालों कि संख्या बढ कर अब ३२८० के पार चली गई है अधिकारी तौर पर भारत मे भी कोरोना वायरस के अभी तक ३१ मामले सामने आए है.   

0 Response to "कोरोना वायरस का खौफ- सरकारी कर्मचारीयों को नही लगाना पडेंगा बायोमेट्रीक हजरी, पढीए पुरा मामला"

टिप्पणी पोस्ट करा

Recent

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article