-->
 मराठवाडा महसुल कर्मचारी संघटनाने फिर २ दिन का पुकारा आंदोलन

मराठवाडा महसुल कर्मचारी संघटनाने फिर २ दिन का पुकारा आंदोलन

औरंगाबाद : मराठवाडा महसुल कर्मचारी संघटना ने २८ ऑक्टुबर २०२० और २९ ऑक्टुबर २०२० इन दो दिनों का सामुहिक रजा आंदोलन मे औरंगाबाद जिल्हा महसुल कर्मचारी संघटना सहभागी रही है. आंदोलन कि वजह महसुल विभाग मे पदोन्नती दि जाए, तहसिलदार, नायब तहसिलदार, अव्वल कारकुन, महसुल सहायक, वाहन चालक, शिपाई, कोतवाल जैसे सभी कर्मचारी अधिकारीयों कि मांगो को जल्द से जल्द पुरा किया जाए साथ ही जिन कर्मचारी अधिकारीयों पर प्रलंबित / फौजदारी खटला संदर्भ मे जल्द से जल्द निर्णय लिया जाए. औरंंगाबाद जिले के बात करे तो यहा 

  • अव्वल कारकुन  -१६१
  • महसहुल सहाय्यक -१६८
  • वाहनचालक  -२०
  • शिपाई -१०५
  • कोतलवा -२२५

और विभागीय आयुक्त कार्यालय के कर्मचारी ११७ इस २ दिन के आंदोलन मे शामील है.यह आंदोलन कोवीड-१९ के मार्गदर्शक सभी सुचनाओं का पालन करने के साथ किए जाने कि बात औरंगाबाद जिल्हा महसुुल कर्मचारी संघटना ने कही है.

मराठवाडा महसुल ककर्मचारी संघटना के इस २ दिन के सामुहिक रजा आंदोलन मे महेंद्र गिरगे (विभागीय सरचिटणीस), किशोर देशमुख (अध्यक्ष तहसिलदार संघटना), अरविंद धोंगडे (जिल्हाध्यक्ष), सचिन साळवे सरचिटणीस,  संजय पवार (कार्यध्यक्ष), सतीष पेंडसे, सचिन सपकाळ, अशोक दराडे, शोभा टाक(महिला प्रतिनिधी), मंंगल मोरे, अनुसया नरवरे (संघटक) ज्ञानेश्वर लोधे, सिध्दार्थ धनजकर (नायब तहसिलदार), समीउल्ला खान (नायब तहसिलदार), सचीन सपकाळ (सहसचिव), विजय कोळी (वि.अध्यक्ष), धनसिंग राजपुत (वि.सरचिटणीस), वाहन चालक एस ए एन पोळ और महसुल कर्मचारी शामिल है 

0 Response to " मराठवाडा महसुल कर्मचारी संघटनाने फिर २ दिन का पुकारा आंदोलन"

टिप्पणी पोस्ट करा

Recent

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article