-->
मेरा बयान हिन्दू विरोधी नहीं था, अगर किसी का दिल दुखा  हो तो मैं अपने शब्द वापस लेता हु - वारिस पठान

मेरा बयान हिन्दू विरोधी नहीं था, अगर किसी का दिल दुखा हो तो मैं अपने शब्द वापस लेता हु - वारिस पठान

वारिस ने कहा की मेरे बयान को तोड़-मरोड़ कर दिखाया गया है, मेरा बयान हिन्दू विरोध नहीं था 

एमआयएम के माजी आमदार वारीस पठाण के बयान कि वजह से पुरे देश मे हंगामा मचा हुआ है । नेता से लेकर बॉलीवुड सेलेब्रिटीज ने भी इस पर अपनी अपनी बाते कही है । मजलीस इत्तेहादुल मुस्लीमीन के आमदार वारस पठाण ने जो कहा उसपर कई मुस्लीम संघटनाओ ने भी नाराजगी जताई थी ।


अब माजी आमदार वारीस पठाण ने अपने बयान को लेकर मुंबई मे हुई प्रेस काँन्प्रेâस मे कहा कि मेरे बोलने का मकसद किसी कि भावनओं ठेस पहोचाना नही था । और मेरा यह बयान हिंदुु विरोधी भी नही था । लेकीन फिर भी मेरे बोलने से किसी का दिल दुखा होतो मै अपने बोल वापीस लेता हु । मेरे बयानो का गलत मतलब बताया गया है । मैने कहा कि १५ करोड मुस्लीम नाराज है १०० आरएसएस और बीजेपी के लोगो से यह मेरे बोलने का मतलब था ।

वारीस पठाण ने अपने बयान को तोड-मरोड कर बाताए गया है यह भी कहा- उन्होने कहा कि वह १५ करोड लोगो से मुस्लीम मुराद है और उन्होने जो १०० कहा था वह आरएसएस, और बिजेपी के लोग थे लेकीन कुछ चैनल्सने उन १०० लोगो को १०० करोड बता दिया ।



0 Response to "मेरा बयान हिन्दू विरोधी नहीं था, अगर किसी का दिल दुखा हो तो मैं अपने शब्द वापस लेता हु - वारिस पठान "

टिप्पणी पोस्ट करा

Recent

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article